काशी में नाव और क्रूज की घर बैठे हो सकेगी ऑनलाइन बुकिंग, इतनी होगी फीस

बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी अब हाईटेक हो गई है। अब आप काशी आते हैं तो आपको नाव की सवारी के लिए मोल भाव करने की जरूरत नहीं होगी। अब आप घर बैठे नाव या क्रूज की बुकिंग कर सकते हैं और सीधा काशी पहुंचकर उसका लुत्फ उठा सकते हैं। आपको छोटी-बड़ी नाव के अलावा मोटरबोट और बजडे की बुकिंग का भी विकल्प मिलेगा। इसके लिए आपको नावी एप (Naavi App) डाउनलोड कर वहां से बुकिंग करनी होगी। निजी कंपनी नावी ने पर्यटकों को गंगा की सैर अपनी पसंदीदा नाव में करने का विकल्प देने के लिए ये सुविधा शुरू की है। यह ऐप प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। ऐप पर नाव बुकिंग करते हुए आपको बताना होगा कि आप किस तारीख को और किस समय के लिए नाव की बुकिंग करना चाहते हैं। इसके साथ ही आपसे ये भी पूछा जाएगा कि आप कौन सी नाव की बुकिंग करना चाहते हैं साथ ही आपको पेमेंट भी करना होगा। इसके बाद आपको बताया जाएगा कि आपकी नाव कहां मिलेगी और वहां से नाव आपको गंगा की सैर करवाएगी। इससे एक फायदा ये होगा कि आपको घाट पर पहुंचकर नाव के लिए नाविक से पैसों को लेकर मोलभाव भी नहीं करना होगा। वहीं दूसरा फायदा ये होगा कि नाविकों को ऑनलाइन कस्टमर की बुकिंग मिलती रहेगी जिससे उनका काम निरंतर चलता रहेगा। इसके अलावा अगर आप वाराणसी में क्रूज की बुकिंग चाहते हैं तो आपवेबसाइट www.nordiccruiseline.com पर जाकर अपनी बुकिंग करा सकते हैं। क्रूज के लिए 750 रुपये के साथ जीएसटी अलग से देनी होगी। बुकिंग के बाद आप सुबह सात बजे से शाम 6 बजे तक क्रूज पर गंगा की सैर कर सकते हैं। क्रूज के जरिए आपको वाराणसी के 84 घाटों के अलावा गंगा आरती भी देखने को मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.