असम सरकार ने एक और मदरसे पर चलाया बुलडोजर, टीचर का था आतंकी लिंक

असम सरकार ने बुधवार को एक और निजी मदरसे पर बुलडोजर चला दिया है। बंगाईगांव के इस मदरसे का अल-कायदा से लिंक होने की वजह से इसे ध्वस्त कर दिया गया। इससे पहले असम सरकार ने दो मदरसे ढहाए थे। पुलिस का कहना है कि मदरसा आतंकी गतिविधियों का केंद्र बना हुआ था। जिले के कबाइतारी गांव में यह दो मंजिला का मदरसा था जिसे ध्वस्त कर दिया गया। मदरसा गिराने में जिला प्रशासन ने आठ बुलडोजर लगाए थे। बीते शुक्रवार को पुलिस ने इसी मदरसे के एक अध्यापक मुप्ती हफीजुर रहमान को गिरफ्तार किया था। आरोप है कि उसका लिंक अल-कायदा से था।मंगलवार को पुलिस ने मदरसे पर छापा मारा था। पुलिस को वहां से कई आपत्तिजनक साहित्य और सामान मिले थे। मुफ्ती हफीजुर रहमान 2018 में शिक्षक के रूप में मदरसे से जुड़े थे। मंगलवार को डिस्ट्रिक्ट डिजास्टर अथॉरिटी ने मदरसा गिराने का आदेश दिया था। कहा गया था कि एक ही कैंपस में कई तरह की गतिविधियां चलाने के लिए मजबूत इन्फ्रास्ट्रक्चर की जरूरत है। यह इमारत किसी भी हादसे की वजह बन सकती है। इस मदरसे में करीब 200 छात्र पढ़ते थे जिन्हें कार्रवाई से पहले बाहर निकाला गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.