ममता बनर्जी आदिवासी विरोधी, राष्ट्रपति चुनाव की ‘जंग’ के बीच BJP ने पश्चिम बंगाल में लगाए पोस्टर

राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले पश्चिम बंगाल में सियासी जंग तेज हो गई है। इस बीच भाजपा ने यहां पर एक पोस्टर लगाया है। इस पोस्टर में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को आदिवासी विरोधी बताया गया है। पोस्टर में एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीरें लगी हैं। गौरतलब है कि टीएमसी राष्ट्रपति चुनाव में यशवंत सिन्हा का समर्थन कर रही है। 

पोस्टर पर और क्या-क्या लिखा है?
इस पोस्टर पर लिखा है कि भाजपा ने एक आदिवासी जनजाति महिला को देश के सर्वोच्च पद के लिए मनोनीत किया। इसके साथ ही भाजपा ने देश के सभी आदिवासी जनजाति संप्रदाय को सम्मानित किया है। यह आदिवासी जनजाति संप्रदाय का गर्व का विषय है। पोस्टर में आगे पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के ऊपर निशाना साधा गया है। इसमें कहा गया है कि ममता बनर्जी आदिवासी जनजाति संप्रदाय के उम्मीदवार का समर्थन न करके किसी अन्य का समर्थन कर रही हैं। वह आदिवासी समाज के करीब आने से हिचकिचा रही हैं। यह भिन्नता थी और रहेगी।

क्या है इस पोस्टर के पीछे वजह
इस पोस्टर के पीछे है, राष्ट्रपति चुनाव में ममता को यशवंत सिन्हा सपोर्ट देना। बताया जाता है कि विपक्ष के लिए उम्मीदवार चुनने में ममता बनर्जी ने ही सबसे अहम भूमिका निभाई है। हालांकि बीते दिनों जब सत्ता पक्ष ने द्रौपदी मुर्मू को समर्थन दिया तो ममता ने एक बयान जारी किया। इसमें ममता ने कहा कि अगर उन्हें पता होता कि एनडीए एक आदिवासी द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाने वाली है तो वह भी समर्थन के लिए सोचतीं। असल में पश्चिम बंगाल में बड़ी संख्या में आदिवासी वोटर हैं, जिन्हें ममता खोना नहीं चाहतीं। इसलिए उन्होंने यह बयान दिया था। लेकिन अब भाजपा ने उनके इसी स्टैंड को उनके खिलाफ हथियार बना लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.