अंकिता से पहले मेरठ का ये दंपति हो चुका है पुलकित का शिकार, बताया रिसॉर्ट का खौफनाक सच

अंकित के रिसॉर्ट में 6 महीने पहले काम करने वाले दंपति ने बताया कि उन्हें रिसॉर्ट में संदिग्ध गतिविधियों का एहसास हो गया था जिसके बाद उन्होंने नौकरी छोड़ने का प्रयास किया तो उनको वहां बंधक बनाकर रखा गया। चोरी का आरोप लगाकर मारपीट की गई। उन्होंने बताया कि इस पूरी साजिश में पटवारी भी शामिल रहा और उसने दबाव डालकर उनसे माफीनामा लिखवाया। जान बचाने के लिए पति-पत्नी और गाजियाबाद निवासी उनका साथी रात तीन बजे दीवार कूदकर रिसोर्ट से भागे थे। इसके बाद जंगल में करीब 10 किलोमीटर पैदल चलकर बस अड्डे तक पहुंचे थे।मेरठ के पांडवनगर निवासी पति-पत्नी ने करीब 6 महीने पहले अंकित के रिसॉर्ट में नौकरी शुरू की थी। महिला को रिसॉर्ट में आने वालों की एंट्री करने और उनके पति को रूम चेकिंग-हाउस कीपिंग का काम मिला था। महिला ने बताया कि करीब एक माह काम करने के दौरान पता चला कि रिसॉर्ट में संदिग्ध गतिविधियां होती हैं। यहां लग्जरी कारों में लोग आते थे, जिन्हें गांजा, शराब, नशीले पदार्थ सप्लाई किए जाते थे। होटल स्टॉफ पर दबाव बनाया जाता था कि मुंह बंद करके रहें।दंपति ने बताया कि उन्होंने एक महीने नौकरी करने के बाद नौकरी छोड़ दी। इसके बाद पुलकित ने कॉल किया और आश्वासन दिया कि वापस आ जाओ और जो भी कुछ हुआ, दोबारा नहीं होगा। दंपति ने बताया कि उन्होंने पुलकित पर यकीन कर लिया और दोबारा नौकरी करने चले गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.