आतंकवाद का मुकाबला हमारी प्राथमिकता, UNSC में फिर गरजे जयशंकर; पाक पर निशाना

शनिवार को दिल्ली में यूएनएससी की काउंटर टेररिज्म की बैठक में विदेश मंत्री जयशंकर ने एक बार फिर पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान पोषित आतंकवाद का मुद्दा उठाया। जयशंकर ने कहा कि ‘आतंकवाद का मुकाबला हमारी पहली प्राथमिकता’ है। इससे पहले आईबी अधिकारियों ने पाकिस्तान को लेकर सनसनीखेज दावा किया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट से हटाने के बाद भारत में आतंकी हमले की संभावना बढ़ गई है। यूएनएसी में जयशंकर ने आतंकवादी गतिविधियों के लिए विभिन्न तकनीकों के इस्तेमाल से उत्पन्न खतरे के बारे में चेतावनी दी वे अब “सस्ता और अधिक आसानी से उपलब्ध” हो गए हैं। बैठक को संबोधित करते हुए, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने एक बार फिर पाकिस्तान पर निशाना साधा। इससे पहले शुक्रवार को मुंबई के ताज होटल में आयोजित यूएनएससी की काउंटर टेररिज्म की बैठक में जयशंकर ने पाक प्रायोजित आतंकवाद का मुद्दा उठाया था। कहा था कि 14 साल पहले पाकिस्तान की धरती से मुंबई को दहलाया गया। आज तक हमारा टास्क पूरा नहीं हुआ। अभी भी असली साजिशकर्ता पकड़ से बाहर हैं। शनिवार को एक बार फिर जयशंकर ने आतंकवाद पर संबोधित किया। उन्होंने कहा कि पिछले दो दशकों में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के महत्वपूर्ण प्रयासों के बावजूद आतंकवाद का खतरा लगातार बढ़ रहा है। जयशंकर ने कहा कि नई प्रोद्योगिकियों के इस्तेमाल से आतंकवाद लगातार फलता फूल रहा है।
पाक पर फिर निशाना
उन्होंने कहा, “संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने पिछले 2 दशकों में, इस खतरे से निपटने के लिए मुख्य रूप से आतंकवाद विरोधी प्रतिबंध व्यवस्था के आसपास निर्मित एक महत्वपूर्ण वास्तुकला विकसित की है। यह उन देशों के लिए बहुत प्रभावी रहा है जिन्होंने आतंकवाद को अपने वित्त पोषित उद्यम में बदल दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.