कश्मीर में सिनेमा हॉल खुले तो असदुद्दीन ओवैसी को याद आई मस्जिद, बोले- जुमे पर क्यों रहती है बंद

जम्मू-कश्मीर में अरसे बाद खुले सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स को लेकर सियासत शुरू हो गई है। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष एवं लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने मंगलवार को इस पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि सिनेमा हॉल तो खुल रहे हैं, लेकिन जुमे पर मस्जिद क्यों बंद रहती है। गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर में एलजी मनोज सिन्हा ने हाल ही में कुछ मल्टीप्लेक्सेज का उद्धाटन किया है। बताया जाता है कि फिल्म लाल सिंह चड्ढा के शो के साथ इनकी शुरुआत होगी।

ओवैसी ने किया ट्वीट
उधर एआईएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी को यह कदम रास नहीं आ रहा है। उन्होंने मंगलवार को सवाल किया कि जब जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रविवार को दक्षिण कश्मीर के शोपियां और पुलवामा जिले में बहुउद्देशीय सिनेमा हॉल का उद्घाटन किया तो श्रीनगर में जामिया मस्जिद हर शुक्रवार को बंद क्यों थी। ओवैसी ने ट्वीट किया कि आपने शोपियां और पुलवामा में सिनेमा हॉल खोले हैं। लेकिन श्रीनगर जामिया मस्जिद हर शुक्रवार को बंद क्यों रहती है? कम से कम दोपहर के मैटिनी शो के दौरान इसे खोलने का आदेश दें।

कश्मीर में 32 साल बाद खुले सिनेमा हॉल, आतंकियों ने 1990 में करा दिए थे बंद
कभी सिनेमाहॉल से गुलजार थी घाटी
बता दें कि जम्मू कश्मीर में सिनेमाहॉल लंबे अरसे से बंद हैं। 80 के दशक तक यहां पर करीब एक दर्जन सिनेमाहॉल चलाए जा रहे थे। लेकिन उनके मालिकों को लगातार आतंकियों की धमकियां मिलने लगी थीं। इसके चलते यह सभी बंद हो गए थे। हालांकि 90 के दशक में कुछ सिनेमाघरों को खोलने की कोशिशें की गई थीं, लेकिन आतंकवाद के चलते इस कोशिश में सफलता नहीं मिली थी। सितंबर 1999 में आतंकियों ने लाल चौक पर स्थित रीगल सिनेमा पर ग्रेनेड दाग दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.