केमिकल से नहीं 2 रुपये के कपूर से भी मच्छर होंगे छूमंतर, बस करने होंगे ये उपाय

 मच्छर के काटने से कई खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं. कई लोगों का कहना है कि इस बार तो मच्छरों की तादाद कुछ ज्यादा ही दिख रही है. ऐसे में हमें मच्छर भगाने के लिए कुछ ऐसे उपाय इस्तेमाल करने चाहिए जिनमें जहरीला धुआ या केमिकल न हो.

दरअसल दिल्ली और आस-पास हवा की गुणवत्ता खराब हो चुकी है. ऐसे में बच्चों और बूढ़ों को मच्छर भगाने वाली अगरबत्ती या केमिकल के धुंए से सांस लेने में भी दिक्कत हो सकती है. तो आखिर क्या करें कि मच्छर भी भाग जाएं और किसी की सेहत को नुकसान न हो.

मच्छर भगाने के देसी उपाय

मच्छरों से बचने के लिए लोग मच्छरदानी, कॉयल, स्कीन क्रीम और मास्क्यूटो रेपेलेंट का इस्तेमाल करते हैं. जिनके दाम बहुत ज्यादा होते हैं. ऐसे में आपको ऐसे देसी नुस्खे बता रहे हैं जो बमुश्किल दो रुपये से लेकर दस रुपये के खर्च में चमत्कारी असर दिखा सकते हैं.

नीम: पुराने जमाने से लेकर आजतक इस नुस्खे का इस्तेमाल धड़ल्ले से किया जाता है. गांवों में तो आज भी नीम की पत्तियां जलाकर मच्छर भगाएं जाते हैं. वहीं नीम के तेल में नारियल तेल मिलाकर शरीर में लगाने से या घर में किसी दीपक की तरह जलाने से भी मच्छर आपके पास नहीं फटकते हैं.

अजवाइन: अजवाइन का इस्तेमाल मच्छर भगाने के लिए भी किया जा सकता है. इसके लिए अजवाइन को बारीक पीसकर यानी उसका चूरा बनाने के बाद उसमें थोड़ा सरसों का तेल मिला लें. इसके बाद किसी गत्ते के टुकड़े कर लें और उसमें रुई भिगोकर इन टुकड़ों में लगाएं और उसे कमरे के चारों तरफ कुछ ऊंचाई पर लगा दें. इसकी महक से मच्छर आपके घर से फौरन बाहर हो निकल जाएंगे.

लहसुन: लहसुन का रस शरीर पर लगाएंगे तो मच्छर आपको नहीं काटेंगे. लहसुन को कूटकर उसका रस निचोड़ लें और पानी मिलाकर घर के कोने-कोने में छिड़काव करें तो ऐसा करने से भी मच्छर भाग जाते हैं.

कपूर: पूजा-पाठ में काम आने वाला दो रुपये का कपूर आपको मच्छरों से छुटकारा दिला सकता है. इस उपाय के लिए आपको एक कटोरी पानी में थोड़ा सा कपूर डालकर कमरे के किसी कोने में रख दें. वहीं आप कपूर को घर के कोनों पर जला सकते हैं. ऐसे में कपूर से निकलने वाली खुशबू से मच्छर तुरंत भाग जाएंगे.

मच्छर भगाने का एक और सस्ता, कारगर और टिकाऊ इलाज बताए तो उसके लिए आपको सबसे पहले तारपीन का तेल लेकर उसमें एक टिक्की बारीक पिसा हुआ कपूर मिलाना होगा. इसके बाद पुरानी रीफिल से रॉड निकालकर उसमें पिसा हुआ कपूर डालकर तारपीन का तेल डालकर रॉड लगा दें. वहीं बोतल का ढक्कन लगाकर इन दोनों को तब तक मिलाएं जब तक कपूर तेल में घुल न जाए. इसके बाद उस रिफिल को वापस बोर्ड पर लगाकर स्विच ऑन कर दें. इसके अलावा आप 2 से 3 टिक्की कपूर की बारीक पीस लें और उसे नीम के तेल में डालकर अच्छे से हिला लें और उसका स्प्रे करें तो इससे भी मच्छर आपके पास नहीं फटकेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.