गोवा में कांग्रेस पर खतरा टला नहीं? दल-बदल के डर से फिर शिफ्ट किए गए 5 विधायक

गोवा में लगता है कांग्रेस को अभी भी दल-बदल का डर सता रहा है। शनिवार को कांग्रेस ने पांच विधायकों को फिर शिफ्ट कर दिया। बताया जाता है कि इन विधायकों को चेन्नई भेजा गया है। जिन विधायकों को शिफ्ट किया गया है, उनके नाम संकल्प अमोनकर, अल्टॉन डिकोस्टा, कार्लोस अल्वारेस, रुडोल्फ फर्नांडिस और यूरी अलेमो हैं। इनमें से संकल्प अमोनकर गोवा कांग्रेस विधायक दल के उपाध्यक्ष हैं। विधानसभा की कार्रवाई खत्म होने के बाद ही हटा लिया गया था। यह सारी बातें उस वक्त हो रही हैं, जबकि 18 जुलाई को राष्ट्रपति का चुनाव होने वाला है।

अब राष्ट्रपति चुनाव के दिन लौटेंगे
वहीं एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने बताया कि शुक्रवार को विधानसभा की कार्रवाई खत्म होने के बाद ही यह सभी विधायक चेन्नई के लिए रवाना हो गए। इस नेता ने यह भी कहा कि अब यह सभी सीधे राष्ट्रपति चुनाव में हिस्सा लेने के लिए ही पहुंचेंगे। वहीं इंडिया टुडे के मुताबिक दिगंबर कामत ने पूरे मामले पर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है। उन्होंने कहा कि मेरे पास पार्टी में कोई आधिकारिक कामकाज नहीं है। इसलिए मैं इस पर कोई टिप्पणी नहीं कर सकता। विधायकों को चेन्नई में किसी से मिलने के लिए बुलाया गया है।

गौरतलब है कि गोवा विधानसभा का मॉनसून सत्र 11 जुलाई तक चलने वाला है। सूत्रों के मुताबिक छह अन्य विधायक दिगंबर कामत, माइकल लोबो, दिलीआलाह लोबो, केदार नाइक, एलिक्सो सिक्वैरा और राजेश फलदेसाई चेन्नई गए गुट का हिस्सा नहीं हैं। इस मामले में माइकल लोबो ने कहा कि उन्हें आईडिया नहीं है कि आखिर विधायक चेन्नई क्यों ले जाए गए हैं? उन्होंने कहा कि मुझसे जाने के लिए नहीं कहा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.