नीतीश की नई सरकार पर ‘कलह के बादल’, मंत्री न बनाने पर जेडीयू के 5 विधायक नाराज

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को अपने नए मंत्रिमंडल का विस्तार करते हुए 31 नए मंत्रियों को शामिल किया। जिसमें प्रमुख सहयोगी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) से 16 मंत्री शामिल हैं। मंत्रियों को पोर्टफोलियो बांटे जा चुके हैं। नीतीश कुमार की जेडीयू के पास वित्त और गृह विभाग आया है। जबकि डिप्टी सीएम तेजस्वी के पास स्वास्थ्य और तेज प्रताप के पास वन एवं पर्यावरण मंत्रालय आया है। इस बीच जानकारी सामने आई है कि जेडीयू के पांच विधायकों ने नाराजगी के कारण शपथ ग्रहण कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लिया।राजभवन में आयोजित समारोह में परबट्टा विधायक डॉ. संजीव कुमार, विधायक पंकज कुमार मिश्रा, बरबीघा विधायक सुदर्शन कुमार और मटिहानी विधायक राजकुमार सिंह और केसरिया विधायक शालिनी मिश्रा शामिल नहीं हुए। संयोग से ये सभी विधायक भूमिहार जाति के हैं। पांचों ने कैबिनेट में शामिल नहीं किए जाने पर नाराजगी जताई है।गौरतलब है कि मंत्रिपरिषद में से 11 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जद (यू) से, दो कांग्रेस से और एक पूर्व सीएम जीतन राम मांझी की हम से, एक निर्दलीय से हैं। सबसे ज्यादा 16 मंत्री राजद से बनाए गए हैं। तीन मंत्रियों में महिला शीला कुमारी और लेशी सिंह (दोनों जदयू) और अनीता देवी (राजद) हैं। राजद के कुल सात यादव हैं, जिनमें लालू प्रसाद के दो बेटों के अलावा जद (यू) के बिजेंद्र यादव शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.