पराग अग्रवाल गए तो क्या, इतनी ग्लोबल कंपनियों में अभी भी इंडियन CEO का है राज

एलन मस्क अब टि्वटर के मालिक हो गए हैं। 44 बिलियन डॉलर की इस डील के साथ ही टि्वटर में कई फेरबदल भी नजर आ रहे हैं। उसके टॉप-3 अधिकारियों को उनके पद से हटा दिया गया है। इन अधिकारियों में भारतीय मूल के टि्वटर सीईओ पराग अग्रवाल भी शामिल हैं। गौरतलब है कि पराग भारतीय मूल के पहले व्यक्ति थे, जो टि्वटर में इस पद पर पहुंचे थे। उन्होंने नवंबर 2021 में जैक डोर्सी की जगह ली थी। हालांकि अभी भी दुनिया की कई बड़ी कंपनियों में भारतीय मूल के लोग शीर्षस्थ पदों पर बने हुए हैं। एक नजर ऐसे ही कुछ अधिकारियों पर…
सत्या नडेला
हैदराबाद में पैदा हुए सत्या नडेला का जन्म हैदराबाद में हुआ है। वह भी उन भारतीयों में शामिल हैं, जो दुनिया की शीर्ष कंपनियों में टॉप पोस्ट संभाल रहे हैं। नडेला फिलहाल माइक्रोसॉफ्ट कंपनी में चेयरमैन के पद पर हैं। उन्होंने साल 1992 में माइक्रोसॉफ्ट ज्वॉइन किया था। इसके बाद फरवरी 2014 में उन्हें इसका सीईओ बनाया गया था। 2021 से वह कंपनी के चेयरमैन हैं।
सुंदर पिचाई
भारतीय मूल के सुंदर पिचाई अल्फाबेट इंक और इसकी सब्सिडियरी गूगल के सीईओ हैं। उन्होंने साल 2015 में इस पद को ग्रहण किया था। वहीं साल 2019 में पिचाई को अल्फाबेट की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई। सुंदर पिचाई ने यह पद गूगल के को-फाउंडर लैरी पेज से ग्रहण किया था।
लीना नायर
लीना नायर, लग्जरी फैशन ब्रांड शेनेल की ग्लोबल सीईओ हैं। लीना, इंद्रा नूई के बाद भारतीय मूल की दूसरी महिला हैं, जो किसी ग्लोबल कंपनी में इस पद पर पहुंची हैं। लीना को दिसंबर 2021 में यह जिम्मेदारी दी गई है। लीना नायर जेवियर स्कूल ऑफ मैनेजमेंट की स्टूडेंट रह चुकी हैं। लीना इससे पहले एंग्लो-डच कंपनी यूनिलीवर में बतौर चीफ एचआर अफसर की जिम्मेदारी संभाल चुकी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.