मुफ्त राशन वालों को मुफ्त इलाज से जोड़ा जाएगा, योगी सरकार की तैयारी

आयुष्मान योजना के लिए जो लोग सबसे ज्यादा पात्र हैं, उन्हीं के आयुष्मान कार्ड अभी नहीं बन पाए हैं। मसला अंत्योदय लाभार्थियों से जुड़ा है। यूपी में अभी महज 18 फीसदी अंत्योदय लाभार्थियों के ही आयुष्मान कार्ड बन पाए हैं। जबकि इनकी संख्या 40 लाख से अधिक है। सभी अंत्योदय कार्डधारक आधार से जुड़े हैं। ऐसे में फर्जीवाड़े की संभावनाएं भी न के बराबर हैं। अब इन्हें आयुष्मान का लाभ देने के लिए प्रदेश में अंत्योदय आयुष्मान पखवाड़ा शुरू किया गया है।

प्रदेश के 40 लाख 79 हजार अंत्योदय राशन कार्डधारक परिवारों को 23 जुलाई 2021 को मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान का लाभ देने की व्यवस्था की गई थी। एक साल बीतने पर भी अभी सिर्फ 18.63 फीसदी लाभार्थियों का ही आयुष्मान कार्ड बन पाया है। जबकि अंत्योदय लाभार्थियों का आधार कार्ड और राशनकार्ड की सहायता से आसानी से सत्यापन कराकर आयुष्मान कार्ड बनाया जा सकता है। मुख्य सचिव ने भी बीते दिनों समीक्षा में इसे लेकर नाराजगी जताई थी।

विशेष पखवाड़े में राशन दुकानों पर लगेंगे कैंप
अब मिशन मोड में अंत्योदय लाभार्थियों के आयुष्मान कार्ड बनाने का खाका तैयार किया गया है। प्रदेश में 20 जुलाई तक अंत्योदय आयुष्मान पखवाड़ा चलेगा। स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.