योगी मंदिर में दर्शनार्थियों का आना शुरू, भक्त ने सवा किलो चांदी का छत्र चढ़ाया

अयोध्या में बने योगी आदित्यनाथ के मंदिर में दर्शनार्थियों का आना भी शुरू हो गया है। कल्याण भदरसा गांव के मजरे मौर्या का पुरवा में एक भक्त ने इसे बनाया है। एक दिन पहले मंगलवार को मंदिर के बारे में मीडिया में खबरें आने के बाद चर्चा शुरू हुई। योगी मंदिर में बुधवार को उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी पहुंचे। उन्होंने न सिर्फ योगी आदित्यनाथ की मूर्ति की पूजा-अर्चना की, बल्कि सवा किलो चांदी का छत्र भी चढ़ाया।नवनिर्माण सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी ने मंदिर में दर्शन करते हुए कहा कि अयोध्या श्री राम की नगरी है। श्री राम भी मानव रूप में ही जनकल्याण के लिए धरती पर आये थे। वे पुरुषों मे उत्तम थे। इसीलिए उनको पुरुषोत्तम कहा गया है। योगी आदित्यनाथ भी नेताओं और राजपुरुषों में उत्तम हैं। हम गुरु के रूप में गोरक्षनाथ, बालकनाथ, संत कबीर, संत रैदास को आदर्श मानते हैं।
उत्तराखंड की काशीपुर विधानसभा सीट से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ चुके गगन कंबोज भी योगी मंदिर पहुंचे और आरती पूजा करके योगी के प्रति अपने भाव प्रकट किया। उन्होंने बताया कि कोई किसी भी दल में हो, बाबा सबके लिए संत पहले हैं और नेता बाद में। योगी का मंदिर बन गया। इससे भारतीय सनातन संस्कृति के उस कार्य को बढ़ावा दिया गया है, जिसमें आदिकाल से संतों की पूजा होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.