राष्ट्रपति चुनाव में शिवसेना भी देगी द्रौपदी मुर्मू को सपोर्ट?

राष्ट्रपति चुनाव में शिवसेना द्रौपदी मुर्मू के समर्थन की तैयारी में है। इस बात का संकेत शिवसेना की पार्टी मीटिंग से मिला है। शिवसेना सांसद गजानन कीर्तिकार ने बताया की मीटिंग में सांसदों ने इस संबंध में मांग की है। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे ने सांसदों से कहा है कि वह एक-दो दिन में इस बारे में फैसला लेकर उन्हें बताएंगे। गजानन कीर्तिकार ने कहा कि भले ही मुर्मू एनडीए उम्मीदवार हैं, लेकिन वह आदिवासी समुदाय से ताल्लुक रखती हैं और एक महिला है। इसलिए शिवसेना सांसदों का मत है कि उन्हें मूर्मू को सपोर्ट करना चाहिए।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के तहत शिवसेना और भाजपा के संबंध सामान्य नहीं है। एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में शिवसेना सांसदों की बगावत के बाद यहां पर महाविकास अघाड़ी गठबंधन की सरकार गिर गई थी। इसके बाद भाजपा और शिवसेना के बागी गुट ने मिलकर सरकार बनाई है। इस बदलते राजनीतिक समीकरण के बीच शिवसेना सांसदों द्वारा अगर भाजपा उम्मीदवार को समर्थन दिया जाता है तो यह अपने आप में बेहद चौंकाने वाली बात होगी। गौरतलब है कि आज शिवसेना सांसदों की बैठक में इस बारे में मांग की गई है।

बता दें कि आदिवासी बैकग्राउंड और महिला उम्मीदवार होने के नाते द्रौपदी मुर्मू को विभिन्न दलों का समर्थन मिल रहा है। इसमें वह दल भी शामिल हैं, जिनकी भाजपा से वैचारिक असहमतियां हैं। यहां तक ममता बनर्जी भी यह कह चुकी हैं कि अगर भाजपा ने उन्हें पहले बताया होता कि वह द्रौपदी मुर्मू को उम्मीदवार बनाने वाली है तो उन्होंने भी समर्थन का विचार किया होता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.