राहुल गांधी के लिए फिर माहौल बनाने लगे कांग्रेसी, गहलोत बोले- भावनाओं को समझें

कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव अगले एक महीने के दौरान होना है और अभी तक राहुल गांधी ने इस बारे में कोई सक्रियता नहीं दिखाई है। यही नहीं किसी और नेता ने भी अध्यक्ष पद की उम्मीदवारी के लिए अब दावेदारी नहीं जताई है। ऐसे में कांग्रेस के नए अध्यक्ष को लेकर पसोपेश बढ़ गई है। इस बीच कांग्रेस के एक वर्ग ने राहुल गांधी को ही फिर से पार्टी का अध्यक्ष बनाने के लिए माहौल तैयार करना शुरू कर दिया है। राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा है कि राहुल गांधी को देश भर के कांग्रेसियों की भावनाओं को समझना चाहिए और अध्यक्ष का पद स्वीकार कर लेना चाहिए।उन्होंने कहा कि पार्टी में एकतरफा राय राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनने के समर्थन में है। इसके साथ ही गहलोत से कहा कि अगर राहुल पार्टी के अध्यक्ष नहीं बनते हैं तो इससे कांग्रेसी निराश होंगे।पार्टी के नए अध्यक्ष को लेकर जारी अटकलों के बारे में पूछे जाने पर गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी को अध्यक्ष बनना चाहिए। उन्होंने कहा,’राहुल गांधी अध्यक्ष नहीं बनते हैं तो इससे देश में कांग्रेस में निराशा आएगी। कई लोग घर बैठ जाएंगे और हम लोगों को तकलीफ होगी। उनको (राहुल गांधी) पूरे देश के आम कांग्रेसजनों की भावना समझते हुए यह पद स्वीकार करना चाहिए।’गहलोत ने कहा कि पार्टी के भीतर भी एक राय राहुल गांधी को नया अध्यक्ष बनाने के पक्ष में है। उन्होंने कहा, ‘एकतरफा राय उनके अध्यक्ष बनने के समर्थन में है तो मैं समझता हूं कि उन्‍हें इसे स्वीकार करना चाहिए।’ उन्होंने कहा,’ यह गांधी या गैर गांधी परिवार की बात नहीं है। यह तो संगठन का काम है कोई प्रधानमंत्री तो बन नहीं रहा।’ इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने आगे कहा, ‘बीते 32 साल में इस परिवार का कोई व्यक्ति प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री या मुख्यमंत्री नहीं बना तो फिर (प्रधानमंत्री नरेंद्र) मोदी जी इस परिवार से डरते क्यों हैं, (दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद) केजरीवाल को कहना पड़ता है कि 75 साल में कुछ नहीं हुआ देश में। तो सब लोग कांग्रेस पर ही हमला क्यों करते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि कांग्रेस पार्टी और देश का डीएनए एक है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.