रेल किराये में वरिष्ठ नागरिकों को छूट खत्म करने पर नाराज वरुण गांधी, कहा- फैसला दुर्भाग्यपूर्ण

भाजपा सांसद वरुण गांधी ने एक बार फिर अपनी ही सरकार को निशाने पर लिया है। रेल किराए में वरिष्ठ नागरिकों को मिलने वाली छूट को खत्म किए जाने पर सवाल उठाते हुए वरुण गांधी ने केंद्र सरकार से सवाल किया। पूछा कि एक ओर जहां सांसदों को रेल किराये में रियायत मिल रही है, वहीं बुजुर्गों को दी जाने वाली इस छूट को ‘बोझ’ के तौर पर क्यों देखा जा रहा है। वरुण गांधी ने विमानों की आपात लैंडिंग पर भी सरकार की नीति को निशाने पर लिया।भाजपा सांसद पिछले काफी वक्त से अपनी पार्टी की उपेक्षा का शिकार हो रहे हैं। उनके बयान कई बार पार्टी की मुश्किल भी खड़ी कर देते हैं। वरुण गांधी ने सिलसिलेवार ट्वीट करते हुए विमानों की आपात लैंडिंग और रेल किराए में वरिष्ठ नागरिकों को दी जाने वाली छूट को समाप्त करने पर सवाल उठाए।
डीजीसीए से अपील
तकनीकी खामियों के चलते बार-बार विमानों को आपात स्थिति में उतारे जाने की घटनाओं पर वरुण गांधी ने चिंता जताई। कहा कि जब घरेलू उड़ान सेवाओं के किराये की दरें लगभग दोगुनी हो गई हैं, तब भी ऐसी स्थिति चिंता पैदा करने वाली हैं। वरुण ने नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) से कड़े कदम उठाने का आग्रह किया और पूछा कि क्या वह किसी बड़ी घटना का इंतजार कर रहा है। भाजपा नेता ने कहा कि पिछले दो महीने में 17 से अधिक उड़ानें प्रभावित हुई हैं, जो ‘बहुत चिंताजनक’ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.