शरद पवार से मिल नीतीश कुमार बोले- प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहता बस एकजुटता लानी है

बिहार में भाजपा से रिश्ता तोड़ने और आरजेडी के साथ सरकार बनाने के बाद नीतीश कुमार विपक्ष के नेताओं के साथ मुलाकात करने और उन्हें भाजपा के खिलाफ लामबंद करने में लगे हुए हैं। इसी क्रम में उन्होंने शरद पवार से भी मुलाकात की। दिल्ली में दोनों नेताओं के बीच करीब 40 मिनट तक बातचीत चली।
मीटिंग के बाद नीतीश कुमार ने कहा कि शरद पवार के साथ बहुत अच्छी बातचीत हुई। उन्होंने कहा, भाजपा के लोग कुछ नहीं कर रहे हैं। ऐसे में एकजुट होना बहुत जरूरी है। मैं बस यही चाहता हूं कि विपक्ष एकजुट हो जाए। पहले यही काम जरूरी है। उन्होंने कहा, एकजुट होने के बाद नेता का भी फैसला हो जाएगा। फिलहाल मैं अगुआ नहीं बनना चाहता हूं। उन्होंने कहा, मैं कोई तीसरा मोर्चा नहीं बल्कि एक मुख्य मोर्चा बनाना चाहता हूं। इसके लिए अगर जरूरत पड़ी तो आगे भी नेताओं से मुलाकात करूंगा।

नीतीश कुमार ने कहा, मैं प्रधानमंत्री पद की इच्छा नहीं रखता हुं लेकिन अगर सभी एक साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे तो देश के लिए अच्छा रहेगा। हमारा कुछ भी व्यक्तिगत नहीं है। हमारा एक ही लक्ष्य है कि सब एकजुट हो जाएं। उन्होंने कहा कि सभी पार्टियों से अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है। बता दें कि इससे पहले नीतीश कुमार ने राहुल गांधी से मुलाकात की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.