शार्टकट से देश का भला नहीं हो सकता, मोदी बोले-काशी ने दुनिया को दिखाया रास्ता, दिया बड़ा संदेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी को 1700 करोड़ से ज्यादा की योजनाओं की सौगात दी। पीएम मोदी ने कहा कि आपने मुझे अपना सांसद बनाकर सेवा का मौका दिया है। जब आप कोई अच्छा काम करते हैं तो मेरा आनंद और बढ़ जाता है। काशी के जागरूक नागरिकों से जिस तरह से मेरा साथ दिया है, उससे बेहद आनंदित हूं। यहां के लोगों ने पूरी दुनिया को शानदार संदेश दिया है। दुनिया को बताया है कि शार्टकट से देश का भला नहीं हो सकता। कुछ नेताओं का भला हो सकता है। लेकिन न जनता का भला होता है और न ही देश का भला होता है।
मोदी ने कहा कि मुझे याद है 2014 में आने के बाद काशी में बाहर से आने वाले लोग सवाल करते थे कि यहां इतना ज्यादा अव्यवस्थित है ठीक कैसे होगा। बनारस में जहां नजर डालों, बदलाव की जरूरत नजर आती थी। साफ लगता था कि बनारस के विकास में दशकों से कोई काम हुआ ही नहीं। लोगों को यह दे दो, वह दे दो…इससे ज्यादा उसकी सोच आगे जाती ही नहीं थी। लोग यही सोचते थे कि कौन इतनी मेहनत करे। अपना पसीन बहाए।
पीएम मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत हर-हर महादेव से की। कहा कि काशी में एक कहावत है कि यहां सात वार और नौ त्योहार होला…यानी यहां रोज नया त्योहार मनाया जाता है। मोदी ने कहा कि काशी ने एक ऐसी तस्वीर देश को दिखाई है जिसमें विरासत भी है और विकास भी है। ऐसी विरासत जिसे भव्य, दिव्य और नव्य बनाने का काम लगातार जारी है। ऐसा विकास जो काशी की सड़कों, गलियों, कुंडों, घाटों और रेलवे स्टेशन से लेकर एयरपोर्ट तक में निरंतर गतिमान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.