संघ प्रमुख मोहन भागवत ने विंध्याचल में की हनुमान जी की पूजा, 60 हजार लड्डुओं का भोग लगाया

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने बुधवार को विंध्याचल के महुआरी स्थित देवरहा हंसबाबा आश्रम में पवनसुत हनुमान का विधि-विधान से दर्शन पूजन किया। काशी के पुरोहित श्रीकांत एवं विंध्याचल के पुरोहित राजन मिश्र के साथ अन्य पांच पुरोहितों ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच अनुष्ठान संपन्न कराया। इस दौरान भागवत ने देसी घी से बने 60 हजार लड्डुओं का भोग लगाकर देश के कल्याण की कामना की। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत वाराणसी से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सुबह 10:30 बजे देवरहा हंसबाबा आश्रम पहुंचे। इससे पहले जिले की सीमा चील्ह थाना क्षेत्र के टेढ़वां पुलिस चौकी के पास विंध्याचल मंडल कमिश्नर योगेश्वर राम मिश्र, डीएम दिव्या मित्तल एवं एसपी संतोष कुमार मिश्रा ने अगवानी की। आश्रम में पुरोहितों के वैदिक मंत्रोच्चार के बीच सुबह 10:45 से दोपहर 12:00 बजे तक उन्होंने विधि विधान से पूजा की।इसके बाद आश्रम के भोजन कक्ष में पहुंचे। आश्रम के प्रबंधक राकेश सक्सेना ने बताया कि लड्डू का प्रसाद आश्रम की तरफ से तैयार कराया गया था। भागवत ने देश के कल्याण एवं देश के विरोधियों को परास्त करने के लिए हनुमान से कामना की। यहां से भागवत शाम चार बजे के करीब मां विंध्यवासिनी के दरबार पहुंचे। गर्भगृह में विधि विधान से दर्शन पूजन किया। मंडलायुक्त योगेश्वर राम मिश्रा से विंध्य कॉरिडोर के संबंध में जानकारी ली। इसके बाद बाद प्रयागराज के लिए रवाना हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.