हरिद्वार के बाद अब गाजियाबाद में होगी धर्म संसद, हेट स्पीच के आरोपी नरसिंहानंद करेंगे आयोजन

हरिद्वार में हुई धर्म संसद विवादित बयानों की वजह से चर्चा में थी। अब इसके एक साल बाद गाजियाबाद के डासना मंदिर में बड़ी धर्म संसद का आयोजन होने जा रहा है। जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर स्वामी यति नरसिंहानंद के मुताबिक 17 और 18 दिसंबर को शिव शक्ति धाम डासना में यह धर्म संसद आयोजित होगी। सह आयोजक यति नरसिंहानंद ने कहा, हम संतों और हिंदू जानकारों व अध्यात्मिक गुरुओं को निमंत्रण पत्र भेज रहे हैं। बता दें कि स्वामी नरसिंहानंद भी वसीम रिजवी के साथ ही हरिद्वार हेट स्पीच मामले के आरोपी हैं। उन्हें 14 जनवरी को सर्वानंद गंगा घाट से गिरफ्तार कर लिया गया था। उस दौरान वह वसीम रिजवी की गिरफ्तारी के विरोध में धरना दे रहे थे। हेट स्पीच मामले में यति नरसिंहानंद को 7 फरवरी को जमानत मिली थी। 
धर्म संसद से हुआ था मोहभंग
खास बात यह है कि इसी साल मई में स्वामी नरसिंहानंद ने कहा था कि वह भविष्य में इस्लामिक जिहाद के विरोध में किसी धर्म संसद का आयोजन नहीं करेंगे। उन्होंने कहा था कि अखाड़ा परिषद और बहुत सारे संत उनके समर्थन में आवाज नहीं बुलंद कर रहे हैं जिससे वह बहुत दुखी और निराश हैं। उन्होंने कहा था कि कम से कम संतों को उनके समर्थन में बोलना चाहिए। इसी बात से खिन्न होकर उन्होंने धर्म संसद में सक्रिय सहभागिता ना करने की बात कही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.